27/05/2024 5:58 pm

www.cnindia.in

Search
Close this search box.

become an author

27/05/2024 5:58 pm

Search
Close this search box.

बूथ की मजबूती से ही चुनावी समर में जीत संभव: नकुल दूबे

बाराबंकी। बूथ के मजबूत संगठन से ही चुनावी समर जीता जा सकता हैं। आवाम को यह समझाने की जरूरत हैं कि कांग्रेस पार्टी जो कहती हैं करती हैं। भाजपा सिर्फ लुभावने सपने दिखाकर वोट लेती हैं और आपके साथ विश्वासघात करती हैं। देश तथा प्रदेश की भाजपा की सरकार किसान विरोधी हैं। इनके राज में बेटियां सुरक्षित नही हैं, नौजवान डिग्री लेकर सड़क पर घूम रहा हैं, मोदी और योगी की सरकार ने आपको धोखा दिया है, आपके विश्वास को तोड़ा हैं, इन्हें 2024 के चुनाव में हराना हैं इसके लिये आपको संसदीय क्षेत्र बाराबंकी 2133 बूथों पर ऐसा मजबूत कांग्रेस पार्टी का संगठन बनाना हैं जो विपरीत परिस्थितियों में भी साम्प्रदायिक शक्तियों को पराजित करके कांग्रेस का परचम लहरा सकें।उक्त उद्गार उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अवध प्रान्त के अध्यक्ष पूर्व मंत्री नकुल दुबे ने आज कांग्रेस का बूथ सबसे मजबूत कार्यक्रम के तहत् विकास खण्ड देवां की न्याय पंचायत टिकरिया के बूथ जबरीखुर्द में पूर्व सांसद डॉ.पी.एल.पुनिया, मध्यजोन के कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के अध्यक्ष तनुज पुनिया, कांग्रेस अध्यक्ष मो. मोहसिन के साथ बूथ की स्थानीय समीक्षा के दौरान व्यक्त किये। तदोपरान्त पूर्व सांसद डॉ.पी.एल.पुनिया ने कांग्रेस अध्यक्ष मो. मोहसिन के साथ विकास खण्ड मसौली के पल्हरी बूथ पर गहन समीक्षा की तथा पूर्व मंत्री प्रदेश अध्यक्ष नकुल दुबे ने तनुज पुनिया के साथ विकास खण्ड निन्दूरा के अनवारी, मुनीमपुर, रींवासींवा, डफरपुर, हसुवापारा, बजगहनी, बूथ समीक्षा की। इसी क्रम में कांग्रेस कमेटी के प्रदेश सचिव व पूर्व कांग्रेस प्रत्याशी रामनगर के ज्ञानेश शुक्ला ने विकास खण्ड सिरौलीगौसपुर के न्यायपचंायत मेलारायगंज के बूथ सं. 304 चकदेहपुर की गहन समीक्षा की। कांग्रेस अध्यक्ष मो. मोहसिन के साथ पूर्व सांसद डॉ.पी.एल.पुनिया ने विकास खण्ड देवां के बूथ जबरीखुर्द एवं मसौली ब्लॉक के बूथ पल्हरी की समीक्षा के दौरान कहा कि भाजपा का डी.एन.ए. किसानविरोधी हैं।मुख्य रूप में कांग्रेस पार्टी अवध प्रान्त के अध्यक्ष पूर्व मंत्री नकुल दुबे, पूर्व संासद पी.एल.पुनिया, तनुज पुनिया, मो. मोहसिन, अमरनाथ मिश्रा, मो. इजहार सिद्दीकी, ज्ञानेश शुक्ला शिव बहादुर वर्मा, मो. शफी आजाद, रामानुज यादव, सौरभ पाण्डेंय सहित सैकड़ो की संख्या में प्रभारी थे जिन्हें बूथ समीक्षा की जिम्मेदारी दी गयी।

cnindia
Author: cnindia

Leave a Comment

विज्ञापन

जरूर पढ़े

नवीनतम

Content Table