08/07/2024 5:43 am

www.cnindia.in

Search
Close this search box.

become an author

08/07/2024 5:43 am

Search
Close this search box.

राजस्व जमीन के हेरफेर में माहिर माने जाते हैं कांग्रेस किसान के नेता

अमेठी। सेना में कार्यरत फौजी की चौहद्दी की जमीन को अपनी चौहद्दी दिखा कर किसान नेता नेता ने अवैध रूप से कब्जा कर लिया है जिसकी शिकायत पीड़ित फौजी के भाई ने जिलाधिकारी व तहसील दिवस प्रभारी अमेठी को शिकायती प्रार्थना पत्र के वास्ते की है। प्राप्त जानकारी के अनुसार किसान नेता सेना से रिटायर हो चुके हैं लेकिन उनकी दबंगई से पीड़ित पूरी तरह से दहशत में है। गलत साक्ष्य और तथ्यों के आधार पर राजस्व अभिलेखों के हेरफेर में माहिर माने जाते हैं किसान कांग्रेस के नेता ऐसा पीड़ित का आरोप है।

मामला अमेठी जनपद के संग्रामपुर थाना क्षेत्र के तारापुर गांव का है। भूमि संख्या 76/ 2.3260 बाबत ग्राम चक्रधरपुर पर0 व त अमेठी, जनपद अमेठी में दिनांक 01.06.2019 को ओम प्रकाश द्विवेदी सुत परमेश्वरदीन द्वारा रकबा 0.0650हे0 बैनामा लेकर काबिज हुये। दिनांक 15.07.2019 को फौजी अखिलेश यादव सुत रामनेवाज यादव जो भारतीय सेना में कार्यरत हैं, के नाम उक्त भूमि (76/ 2.326) से रकबा 0.06500 भूमि बैनामा लेकर काबिज हुआ ।

दिनांक 11.09-2019 को पुनः ओम प्रकाश द्विवेदी के द्वारा उक्त भूमि में रकबा – 0.03800 बैनामा लिया जिसका खारिज दाखिल अभी हाल में ही हुआ परन्तु रिकाल प्रार्थना पत्र न्यायालय तहसीलदार अमेठी के यहां आगामी तिथि 05.04.2023 नियत होकर विचाराधीन चल रहा है जिसमें बंटवारे का भी बाद अमेठी उपजिलाधिकारी के न्यायालय में पुष्ट होकर अब न्यायालय जिलाधिकारी महोदय अमेठी के यहां आगामी तिथि 05. 04-2023 को नियत होकर विचाराधीन चल रहा है ।परन्तु दबंग सरहँग ओम प्रकाश द्विवेदी सुत परमेश्वरदीन कांग्रेस जिला अध्यक्ष (किसान मोर्चा) के द्वारा जबरन पीड़ित फौजी के कब्जे वाली भूमि को जोत कर दिनांक- 25.03.2023 को कब्जा करने का प्रयास कर रहे हैं। जिस पर फौजी के परिजन दिनांक 15.07.2019 से अब तक काबिज है। पीड़ित फौजी के परिजनों द्वारा द्वारा मना करने पर किसान नेता ओम प्रकाश द्विवेदी अमादा फौजदारी है जिससे परिजन काफी अचम्भित व परेशान है। ऐसा पीड़ित परिजनों का आरोप है। इस पूरे प्रकरण में पीड़ित फौजी ने अपनी जमीन का विक्रेता से लिखा कर कब्जा किया। जिसकी दाखिल खारिज हो चुकी है। इसके कुछ दिनों बाद किसान नेता ओम प्रकाश द्विवेदी ने फौजी अखिलेश यादव की जमीन की चौहद्दी को अपनी चौहद्दी दिखा कर दूसरा बैनामा लिया। जिसका जिसकी भनक लगते ही दाखिल खारिज पर पीड़ित फौजी की परिजनों ने आपत्ति दाखिल कर दी लेकिन जनवरी माह में उनकी अपील को तहसीलदार बृजमोहन यादव द्वारा खारिज कर दिया गया। इसके बाद इसके बाद उक्त जमीन पर मामला उप जिला अधिकारी अमेठी वह जिला अधिकारी अमेठी के यहां विचाराधीन चल रहा है मामला न्यायालय में विचाराधीन होने के बाद भी किसान नेता ने फौजी की जमीन को जबरदस्ती जुताई कर दी और पीड़ित फौजी की जमीन को अपनी चौहद्दी दिखाकर एन केन प्रकारेण अपनी जमीन सिद्ध करने पर लगे हुए हैं। इस बारे में जब विपक्षी किसान नेता ओम प्रकाश द्विवेदी से संपर्क करने का प्रयास किया गया तो उनसे संपर्क नहीं हो सका।

cnindia
Author: cnindia

Leave a Comment

विज्ञापन

जरूर पढ़े

नवीनतम

Content Table