24/05/2024 10:00 pm

www.cnindia.in

Search
Close this search box.

become an author

24/05/2024 10:00 pm

Search
Close this search box.

मनरेगा तालाब से मिट्टी निकाल कर बेची जा रही है दर्जनों तालाब का वीडियो वायरल हो चुका है लेकिन अभी तक खनन विभाग ने कोई कार्रवाई नहीं की

सुल्तानपुर: जिले में खनन माफिया दिन रात अवैध खनन करके सरकार को खुली चुनौती दे रहे हैं। प्रशासन के नाक के नीचे दिन रात सरकारी तालाब जमीनों पर अवैध खनन हो रहा है। मिट्टी से भरे ट्रैक्टर दिन रात सड़कों पर दौड़ रहे हैं। पुलिस प्रशासन जानते हुए भी खनन विभाग का काम बताकर अपना पल्ला झाड़ रहा है।नगर कोतवालीअंतर्गत पल्हीपुर खनन धम्मौर थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचायत कतकौली माफिया प्रशासन पर इस कदर हावी है कि जेसीबी मशीन से दिन रात सरकारी जमीनों पर अवैध खनन कर सरकार को करोड़ों रुपये राजस्व का चूना लगा रहे हैं। मिट्टी से लदे ट्रैक्टर दिन रात सड़कों पर खुलेआम दौड़ रहे हैं। लोगों का कहना है कि जेसीबी ट्रैक्टर की आवाजों से दिन भर खेती करने वाले किसानों के कान गूंजते रहते हैं। पुलिस से शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं होती है। खनन करके जा रही ट्रैक्टर ट्रालियां को तेज रफ्तार से गुजरती रहती हैं। मनरेगा तालाब से मिट्टी निकाल कर बेची जा रही है दर्जनों तालाब का वीडियो वायरल हो चुका है लेकिन अभी तक खनन विभाग ने कोई कार्रवाई नहीं की जनपद सुल्तानपुर के दुबे पुर विकासखंड जहां ग्राम प्रधान द्वारा बिना किसी कार योजना के मनरेगा तालाबों में जेसीबी लगाकर अवैध खनन कराया जा रहा है और उसकी मिट्टी खनन माफियाओं के हाथ बेच दी जा रही है हालांकि इस मामले में खंड विकास अधिकारी संदीप सिंह का कहना है कि मामला उनके संज्ञान में है संबंधित ग्राम पंचायतों को कारण बताओ नोटिस दिया जाएगा और उनसे स्पष्ट जवाब मांगा जाएगा कि किसके आदेश से ग्राम पंचायत में मौजूद तालाब की मिट्टी बेची जा रही है।किन-किन ग्राम पंचायतों में अवैध तरीके से मिट्टी निकाल कर बेची जा रही है मिली जानकारी के मुताबिक दुबेपुर विकासखंड के पंचायत कतकौली ग्राम पंचायत के तालाब से मिट्टी निकाल कर बेची जा रही है तो दूसरी ग्राम पंचायत दादूपुर है जहां ग्राम पंचायत के तालाब में जेसीबी चलाते हुए वीडियो दिनदहाड़े वायरल हुआ था। तीसरी ग्राम पंचायत पल्हीपुर है बिक गई है सैकड़ों ट्रक मिट्टी ।मामले में खंड विकास अधिकारी संदीप सिंह का कहना है कि जिन ग्राम पंचायतों की शिकायत और वीडियो वायरल हुआ है उनका राम पंचायतों में अब भुगतान नहीं किया जाएगा और 6 महीने तक इन ग्राम पंचायतों में उस तालाब पर वही कार्य योजना स्वीकृत नहीं की जाएगी।

 

cnindia
Author: cnindia

Leave a Comment

विज्ञापन

जरूर पढ़े

नवीनतम

Content Table